truevsion

अनुकूलनशीलता: जीवन गतिशील है, और परिस्थितियाँ बदल रही हैं। जीवन दृष्टि बनाते समय अनुकूलन और लचीलेपन के प्रति भी खुले रहें। जैसे-जैसे आप नए अनुभव और अंतर्दृष्टि प्राप्त करेंगे, आपकी दृष्टि विकसित होती रहेग। एहि हमारे इस ब्लॉग का सही उदेश्ये है

वाल्मिकी जयंती कब, कैसे, और क्यों मनाई जाती है? आइये जानते है वाल्मिकी जयंती के बारे विष्तार पूर्वक

वाल्मिकी जयंती 2023: प्रमुख हिंदू धर्मग्रंथ रामायण के रचयिता महर्षि वाल्मिकी की जयंती 28 अक्टूबर को मनाई जाएगी:- वाल्मिकी भगवान राम के प्रबल भक्त थे और उन्होंने देवी सीता को आश्रय देने और लव और कुश को रामायण सिखाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। वाल्मिकी जयंती उत्तरी भारत में उत्साह के साथ मनाई जाती है और वाल्मिकी ऋषि…

Read More

World Cup 2023 में फैंस को अब तक कांटे के मुकाबले देखने को नहीं मिले हैं,उम्मीद है कि अगले कुछ दिनों में उनकी ये इच्छा पूरी होगी।

World Cup 2023: अब तक, विश्व कप 2023 का शानदार मुकाबला प्रशंसकों को नहीं देखा गया है। उनकी ये इच्छा अगले कुछ दिनों में पूरी होगी। विश्व कप 2023: भारत की मेजबानी में खेले जा रहे 2023 विश्व कप (World Cup 2023) में हर दिन कुछ नया होता है। आए दिन बल्लेबाजी और गेंदबाजी में नये-…

Read More

साल का दूसरा और आखिरी चंद्र ग्रहण भारत में 28/29 अक्टूबर 2023 को लगने जा रहा है, जानें सूतक काल के बारे में

Lunar Eclipse 2023: चंद्र ग्रहण एक खगोलीय घटना है जिसमें हर किसी की दिलचस्पी होती है. इसका स्वरूप भी बहुत सुंदर होता है. सूर्य ग्रहण की तरह चंद्र ग्रहण का भी ज्योतिषीय महत्व है। चंद्र ग्रहण आध्यात्मिक, पौराणिक और धार्मिक दृष्टि से बहुत ही महत्वपूर्ण माना जाता है। साल का दूसरा और आखिरी चंद्र ग्रहण 28…

Read More

डेंगू बुखार अधिक खतरनाक क्यों होता जा रहा है और इसका कारण क्या है? कोरोना से संक्रमित हुए लोग हो जाएं सावधान

विशेषज्ञो का मानना है की डेंगू बुखार तेजी से फैल रहा है। अगर आपको पहले कभी कोरोना संक्रमण हो चुका है। तो आपको डेंगू से सावधान रहना चाहिए। दरअसल, एक हालिया अध्ययन के मुताबिक, शरीर में कोरोना एंटीबॉडीज के कारण डेंगू संक्रमण अधिक गंभीर हो सकता है। डेंगू का खतरा: मौसम बदलते ही देश में डेंगू बुखार ने कहर…

Read More

दशहरा का इतिहास, महत्व और क्यों मनाया जाता है दशहरा?

दशहरा (विजय दशमी) :- यह पर्व सत्य की असत्य पर जीत का उत्सव है। दशहरा, जिसे विजय दशमी भी कहते हैं, अश्विन मास के शुक्ल पक्ष की दशमी को मनाया जाता है। विजयादशमी, या दशहरा, नवरात्रि के बाद मनाया जाता है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, भगवान राम ने रावण को मारने से पहले नौ दिनों तक मां दुर्गा की पूजा की…

Read More

नवरात्रि का नौवां दिन: पूजा, मंत्र, आरती, भोग और क्यों भगवान शिव ने मां सिद्धिदात्री की पूजा की थी?

नवरात्रि  के नौवें दिन मां सिद्धिदात्री का मंत्र, भोग, पूजा विधि और कन्या पूजन का महत्व :- आज शारदीय नवरात्रि का अंतिम दिन है, जिसमें मां दुर्गा की नौवें शक्ति माता सिद्धिदात्री की पूजा पूरी तरह से की जाती है। माता दुर्गा को मां सिद्धिदात्री कहा जाता है क्योंकि उसका यह स्वरूप मोक्ष और सिद्धि देने वाला…

Read More

“आत्मा” और “परमात्मा” दो अलग-अलग शब्द नहीं हैं क्या ये दोनों ही एक ही परम तत्व को बताते हैं?

‘परमात्मा’, आत्मा का सर्वोच्च रूप— आत्मा और परमात्मा एक ही परम तत्व के दो नाम हैं, लेकिन साधारण लोग उसे अलग समझते हैं। अंतर बस इतना है कि आत्मा का परम रूप, “परमात्मा” है। आत्मज्ञान (अंग्रेजी में सेल्फ रिलाइजेशन) आत्म के स्वरूप को समझना है। राग, द्वेष और क्लेश इस दुनिया में आत्मज्ञान की कमी के कारण होते…

Read More

नवरात्रि के आठवें दिन मां महागौरी की पूजा करने का तरीका, मंत्र और भोग

शारदीय नवरात्रि का आठवां दिन है:- इस दिन माता महागौरी की पूजा होती है। मां महागौरी श्वेत रंग की है। उनका स्वपुर अत्यंत शांत और नरम है। मां महागौरी की पूजा करने से जीवन में कई समस्याएं दूर होती हैं। आइए जानते हैं मां महागौरी का पूजन, मंत्र, भोग और आरती कैसे किए जाते हैं। शारदीय…

Read More

एक्शन मोड में है सरकार, 1 नवंबर से दिल्ली-NCR में चलेंगी केवल इलेक्ट्रिक, CNG, BS-VI डीजल बसें

सर्दियों की आहट के साथ, राजधानी दिल्ली सहित ग्रामीण क्षेत्रों में हवा की गुणवत्ता गिरती जा रही है।राजधानी दिल्ली सहित और इससे सटे क्षेत्रों में हवा में बढ़ते प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए सरकार कार्रवाई में करने लगी है। इसलिए, शुक्रवार को केंद्रीय वायु गुणवत्ता पैनल ने घोषणा की कि 1 नवंबर से हरियाणा, उत्तर प्रदेश…

Read More

नवरात्रि के सातवें दिन मां कालरात्रि की पूजा की विधि, मंत्र, भोग और आरती के बारे में जानें

नवरात्र का सातवां दिन है:- जिसमें मां दुर्गा की सातवीं शक्ति मां कालरात्रि की पूजा की जाती है। मां दुर्गा के क्रोध से माता का वर्ण श्यामल हो गया, जिससे मां कालरात्रि का जन्म हुआ। शुंभ अशुंभ और रक्तबीज का संहार करने की वजह से इन्हे शुभंकरी भी कहते है,है। आइए जानते हैं नवरात्रि के सातवें…

Read More